special khatu shyam ji ki aarti , खाटू श्याम जी की आरती

special khatu shyam ji ki aarti , खाटू श्याम जी की आरती

khatu shyam ji ki aarti : खाटू श्याम जी को भगवान श्री कृष्ण के कलयुगी अवतार के रूप में माना और जाना जाता है। बाबा श्याम जी अपने सभी भक्तो की सभी मुरादें पूरी करते हैं और खाटू बाबा किसी भी इंसान को राजा से रंक और रैंक को राजा बना सकते हैं|खाटू बाबा शक्तिशाली घटोत्कच के पुत्र थे और वो बाल्यकाल से ही एक वीर और महान योद्धा भी थे। चलिए अब हम आपको खाटू श्याम जी की आरती (khatu shyam ji ki aarti) बताते है –

khatu shyam ji ki aarti

खाटू श्याम बाबा की आरती, खाटू श्याम की आरती

ॐ जय श्री श्याम हरे, बाबा जय श्री श्याम हरे।
खाटू धाम विराजत, अनुपम रूप धरे॥ ॐ जय श्री श्याम हरे॥

रतन जड़ित सिंहासन, सिर पर चंवर ढुरे।
तन केसरिया बागो, कुण्डल श्रवण पड़े॥ ॐ जय श्री श्याम हरे॥

गल पुष्पों की माला, सिर पर मुकुट धरे।
खेवत धूप अग्नि पर, दीपक ज्योति जले॥ ॐ जय श्री श्याम हरे॥

मोदक खीर चूरमा, सुवरण थाल भरे।
सेवक भोग लगावत, सेवा नित्य करे॥ ॐ जय श्री श्याम हरे॥

झांझ कटोरा और घड़ि़यावल, शंख मृदंग धुरे।
भक्त आरती गावे, जय-जयकार करे॥ ॐ जय श्री श्याम हरे॥

जो ध्यावे फल पावे, सब दुःख से उबरे।
सेवक जन निज मुख से, श्री श्याम-श्याम उचरे॥ ॐ जय श्री श्याम हरे॥

‘श्री श्याम बिहारीजी’ की आरती, जो कोई नर गावे।
कहत भक्तजन स्वामी, मनवांछित फल पावे॥ ॐ जय श्री श्याम हरे॥

तन मन धन सब कुछ है तेरा, हो बाबा सब कुछ है तेरा।
तेरा तुझको अर्पण, क्या लोग मेरा॥ ॐ जय श्री श्याम हरे॥

जय श्री श्याम हरे, बाबा जी श्री श्याम हरे।
निज भक्तों के तुमने, पूरण काज करे॥ ॐ जय श्री श्याम हरे॥

khatu shyam ji ki aarti in english, khatu shyam baba ki aarti, aarti khatu shyam ji ki

agar aap khatu shyam ji ki aarti english me dhund rahe hai to aapko google ya bing jaise search engine par khatu shyam ji ki aarti english me jaldi se nahi milegi. lekin hum aapko khatu shyam ki aarti english me uplbdh kara rahe hai.

Om jai shree shyam hare, baba jai shree shyam hare|
Khatu dham birajat, anupam roop dhare॥ Om jai shree…॥

Ratan jadit singhasan, sir per chanvar dhure|
Tan kesariya bago, kundal shravan pade॥ Om jai shree…॥

Gal pushpo ki maala, sir per mukut dhare|
Khevat dhoop agni par, deepak jyoti jale॥ Om jai shree…॥

Modak kheer choorma, suvaran thaal bhare|
Sevak bhog lagavat, seva nitya kare॥ Om jai shree…॥

Jhanj katora aur ghadiyaval, shankh mridang dhure|
Bhakt aarti gaave, jai jaykaar kare॥ Om jai shree…॥

Jo dhyave fal paave, sab dukh se ubre|
Sevak jan nij mukh se, shree shyam shyam uchre॥ Om jai shree…॥.

Shree shyam bihariji ki aarti, jo koi nar gaave|
Kehat bhktjan svami, manvanchit fal paave॥ Om jai shree…॥

tan man sab kuch hai tera, ho baba sab kuch hai tera|
tera tujhko arpan, kya log mera॥ Om jai shree…॥

jai shree shyam hare, baba jai shree shyam hare|
Nij bhakto ke tumne, pooran kaaj kare॥ Om jai shree…॥

खाटू श्याम जी आरती, आरती खाटू श्याम जी की, खाटू वाले श्याम बाबा की आरती, आरती खाटू श्याम,खाटू नरेश की आरती, खाटू बाबा की आरती, खाटू वाले की आरती

shri khatu shyam ji ki aarti, khatu ji ki aarti, khatu shyam baba aarti, khatu shyam aarti in hindi, khatu wale shyam baba ki aarti, khatu baba ki aarti, jai shree khatu shyam ji

khatu shyam ji ki aarti lyrics in hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!