Mon. Jan 17th, 2022

Lipoma Ka Homeopathic Ilaj : लिपोमा की परेशानी किसी भी उम्र की महिला या पुरुष को हो सकती है,लेकिन ऐसे बहुत सारे इंसान होते है जिन्होंने लिपोमा का केवल नाम सुना होता है ऐसे इंसानो के मन में सवाल आता है की लिपोमा कया होता है? अगर आपको भी लिपोमा के बारे में जानकारी नहीं है तो परेशान ना हो आज हम अपने इस लेख में लिपोमा के बारे में जानकारी देने जा रहे है

लिपोमा कया होता है ?

अगर आपके शरीर के किसी भी भाग में चर्बी की गांठ बन जाती है तो चर्बी से बनी इस गांठ को लिपोमा कहा जाता है| लिपोमा की परेशानी कोशिकाओं की वृद्धि की वजह से भी होती है क्योंकि जब कोशिका में बढ़ोतरी हो जाती है तो उसमे वसा या चर्बी की मात्रा बहुत ज्यादा होने लगती है फिर धीरे धीरे वो चर्बी एक जगह एकत्रित होकर गांठ बन जाती है यह गांठ शरीर के किसी भी भाग में बन सकती है,इस गांठ को लिपोमा कहते है| लिपोमा की परेशानी होने पर सबसे पहले इंसान एलोपेथिक इलाज की तरफ जाता है लेकिन एलोपेथिक में लिपोमा का इलाज सर्जरी ही है,सर्जरी में शरीर के जिस भाग में गांठ होती है उसे काट कर शरीर से अलग कर देते है| लेकिन अगर आप सर्जरी नहीं करना चाहते है तो लिपोमा का इलाज होम्योपैथिक से कर सकते है,होम्योपैथिक दवा का सेवन नियमित रूप से करने से जल्द ही लिपोमा की परेशानी कम होने लगती है फिर कुछ ही दिनों में लिपोमा की परेशानी समाप्त हो जाती है| होम्योपैथिक में असर थोड़ी देर से होता है लेकिन इससे लिपोमा का इलाज स्थाई होता है,चलिए अब हम आपको लिपोमा के लक्षणों के बारे में जानकारी देते है

लिपोमा के लक्षण – Lipoma Ke Lakshan

ऊपर आपने जाना की लिपोमा कया होता है चलिए अब हम आपको लिपोमा के लक्षणों के बारे में बताते है –
शरीर के किसी भी भाग पर छोटी या बड़ी गांठ का बनना
शरीर के किसी एक भाग या अलग अलग भाग में एक या अधिक गांठ बनना
गांठ को हिलाने या मसलने पर हल्का सा दर्द भी ना होना
गांठ मुलायम या कठोर हो सकती है लेकिन दोनों प्रकार की गांठो में दर्द का ना होना

लिपोमा के कारण – Lipoma Ke Karan

कुछ लोगो का मानना है की लिपोमा की परेशानी केवल मोटे लोगो के साथ होती है हालाँकि यह सच नहीं है लिपोमा की परेशानी किसी भी इंसान को हो सकती है| लिपोमा की परेशानी मोटे या पतले इंसान के साथ हो सकती है क्योंकि शरीर में वसा कोशिका का बढ़ना किसी भी इंसान में ही सकती है| लिपोमा की बीमारी को अनुवांशिकता की वजह से भी होती है अगर आपके परिवार में किसी को लिपोमा की परेशानी है तो यह परेशानी आपको भी होने की प्रबल सम्भावना होती है| ऐसे इंसान जो नियमित रूप से जिम करते है फिर अचानक से जिम छोड़ देने की वजह से कई बार शरीर के किसी भी भाग में गांठ बन जाती है|

क्या लिपोमा का इलाज संभव है ?

जी हां लिपोमा का इलाज संभव है,लिपोमा का स्तर देखने के बाद ही आपका इलाज किया जा सकता है| लिपोमा का इलाज आप एलोपेथिक और होम्योपैथिक दोनों में करा सकते है,लिपोमा की परेशानी कितने समय में सही होगी इसकी सटीक जानकारी आपको डॉक्टर आपके शरीर में बनी गांठ की जांच करने के बाद ही दे सकता है|

लिपोमा का होम्योपैथिक इलाज – Lipoma Ka Homeopathic Ilaj

जब कोई भी लिपोमा से पीड़ित इंसान होम्योपैथिक डॉक्टर के पास जाता है तो डॉक्टर सबसे पहले मरीज की शारीरिक और मानसिक स्थिति को देखकर उसके लिए बेहतर दवा देते है| लेकिन एक बात का ख्याल हमेशा रखे की कभी भी अपनी मर्जी से अपनी इस परेशानी का इलाज नहीं करना चाहिए,डॉक्टर मरीज के शरीर के किस हिस्से पर गांठ बनी है गांठ कितनी बड़ी है,गांठ मुलायम है या कठोर ऐसी सभी चीजों को चेक करने के बाद डॉक्टर आपको दवा देता है|

लिपोमा की होम्योपैथिक दवा – Lipoma Ki Homeopathic Dawa :

ऊपर आपने जाना की लिपोमा कया है, लिपोमा के लक्षण और लिपोमा होने के करने के बारे में जाना चलिए अब हम आपको लिपोमा की होम्योपैथिक दवा के बारे में बताते है,लेकिन हमारे द्वारा बताई जा रही दवा को कभी भी अपनी मर्जी से इस्तेमाल नहीं करनी चाहिए क्योंकि हर इंसान के शरीर की बनावट और शरीर में बानी हुई गांठ अलग अलग होती है इसीलिए आपको कितनी दवा लेनी है इसकी सटीक जानकारी केवल डॉक्टर ही दे सकता है

१ – थूजा 200 – Lipoma Ka Homeopathic Ilaj

लिपोमा का होम्योपैथिक इलाज आप होम्योपैथिक दवा थूजा 200 के द्वारा किया जा सकता है| लिपोमा में शरीर के जिस हिस्से में गांठ बन जाती है उस भाग में वसा या चर्बी बढ़ने लगती है और अगर इसकी दवा ना ली जाए तो गांठ धीरे धीरे बढ़ने लगती है ऐसे में थूजा 200 का सेवन करने से आपको लाभ मिलता है,थूजा 200 में मौजूद तत्व वसा को बढ़ने से रोकने में मददगार होती है| नियमित रूप से होम्योपैथिक दवा थूजा 200 का सेवन करने से गांठ कुछ ही दिनों में कम होने लगती है,उचित खुराक की जानकारी के लिए होम्योपैथिक डॉक्टर के परामर्श के बाद ही दवा का सेवन करना चाहिए|

लैपिस अल्बा – Lipoma Ka Homeopathic Ilaj

लिपोमा की परेशानी को दूर करने के लिए होम्योपैथिक दवा लैपिस अल्बा भी काफी लाभकारी होती है| होम्योपैथिक दवा लैपिस अल्बा टेबलेट के रूप में उपलब्ध है,लिपोमा का इलाज करने के लिए लैपिस अल्बा को सुबह दोपहर और शाम तीन बार लेने से जल्द लाभ मिलता है| लैपिस अल्बा बाजार में अलग अलग पोटेंसी में उपलब्ध है आपकी परेशानी को देखने के बाद ही डॉक्टर आपके लिए बेहतरीन दवा चुन कर देते है| लेकिन एक बात का ख्याल हमेशा रखें की लैपिस अल्बा दवा का सेवन कभी भी अपनी मर्जी से नहीं करना चाहिए क्योंकि आपको नहीं पता है की आपके हिसाब से कोण सी पोटेंसी की दवा बेस्ट होगी| कई बार गलत दवा का सेवन करने की वजह से इंसान अपनी बिमारी को बड़ा लेते है|

कैल्केरिया फ्लोर – Lipoma Ka Homeopathic Ilaj

अगर आप लिपोमा की परेशानी से पीड़ित है और आपके शरीर पर बानी हुई गांठ के आस पास सूजन भी आ रही है तो ऐसे स्थिति में होम्योपैथिक दवा कैल्केरिया फ्लोर लाभदायक होती है| लिपोमा की होम्योपैथिक दवा कैल्केरिया फ्लोर किसी भी प्रकार की छोटी या मोती गांठ को गलाने में मददगार होती है| होम्योपैथिक दवा कैल्केरिया फ्लोर गांठ की चर्बी को कम करने में सहायक होने के साथ साथ मोटापे को भी कम करने में काफी मददगार होती है| होम्योपैथिक डॉक्टर से सलाह लेने के बाद ही इस दवा का सेवन करें,अपनी मर्जी से कभी भी किसी भी दवा का सेवन ना करें|

लिपोमा का होम्योपैथिक इलाज के फायदे और नुकसान – Lipoma Ka Homeopathic Ilaj Karne Ke Fayde aur Nuksan :

लिपोमा की परेशानी होने पर अगर आप होम्योपैथिक इलाज करवा रहे है तो इसके नुक्सान बहुत ही मुश्किल से होते है| लेकिन अगर आप अपनी मर्जी से किसी भी होम्योपैथिक दवा का सेवन करते है या आप आपकी बिमारी के हिसाब से उचित खुराक नहीं लेते है या बिमारी को जल्दी समाप्त करने के लिए दवाई अधिक मात्रा में लेते है तो आपको इसके घातक परिणाम भुगतने पड़ सकते है| लिपोमा का इलाज एलोपेथी से करने पर कई बार यह गांठ फिर से बन जाती है लेकिन होम्योपैथिक इस बीमारी को जड़ से समाप्त करता है| इसीलिए लिपोमा की परेशानी में होम्योपैथिक को सबसे बेहतर माना जाता है|

हम आशा करते है की आपको हमारा लेख लिपोमा का होम्योपैथिक इलाज (Lipoma Ka Homeopathic Ilaj) पसंद आया होगा| लेकिन अगर आप लिपोमा की दवा के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो गूगल या बिंग पर लिपोमा का होम्योपैथिक इलाज (Lipoma Ka Homeopathic Ilaj) लिखकर सर्च कर सकते है|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!