Wed. May 25th, 2022
mote hone ki homeopathic dawa

mote hone ki homeopathic dawa : किसी भी पुरुष या महिला का वजन कम होता है तो वो अपना वजन बढ़ाने के लिए काफी ज्यादा परेशान रहता है| दुबले शरीर वाला इंसान अपना वजन बढ़ाने के लिए घरेलू उपाय, एलोपेथिक दवा और होम्योपैथिक दवा का सहारा लेता है, वजन बढ़ाने के लिए घरेलू उपाय और होम्योपैथिक दवा को सबसे सुरक्षित इलाज माना जाता है| अगर आप भी तेजी से अपना वजन बढ़ाने की होम्योपैथिक दवा सर्च कर रहे है तो आप बिलकुल सही पेज पर पहुँच गए है आज हम आपको अपने इस लेख में मोटे होने की होम्योपैथिक दवा के बारे में जानकारी उपलब्ध करा रहे है| प्रत्येक इंसान के शरीर की बनावट अलग होती है किस इंसान के लिए दवा की कितनी मात्रा उचित होती है इसकी सटीक जानकारी चिकित्सक ही दे सकता है इसीलिए वजन बढ़ाने की होम्योपैथिक दवा (mote hone ki homeopathic dawa ) का सेवन उचित खुराक की जानकारी लेने के बाद ही करना चाहिए|

mote hone ki homeopathic dawa

मोटे होने की होम्योपैथिक दवा, mote hone ki homeopathic dawa

चलिए अब हम आपको मोटे होने की होम्योपैथिक दवा की जानकारी दे रहे है, लेकिन एक बात का ख्याल हमेशा रखिए, हमारे द्वारा बताई जा रही होम्योपैथिक दवा या किसी भी अन्य दवा का सेवन अपनी मर्जी से ना करें, किसी भी दवा का सेवन करने से पहले चिकित्सक से परामर्श जरूर करें|

1. नेट्रम मुर – vajan badhane ki homeopathic dawa

दुबला इंसान अपने वजन को लेकर काफी परेशान रहता है, लेकिन किसी भी इंसान को मोटे होने की होम्योपैथिक दवा का सेवन करने से पहले अपने वजन कम होने के पीछे का कारणों के बारे में भी जानना चाहिए| कोई भी इंसान जब किसी भी परेशानी की वजह से मानसिक तनाव में रहता है तो इस तनाव का असर उसके शरीर पर भी दिखने लगता है क्योंकि मानसिक तनाव जब ज्यादा होता है तो इंसान खाना पीना भूल जाता है या बहुत कम खाता पीता है| खाना पीना कम होने की वजह से धीरे धीरे इंसान का वजन कम होने लगता है अगर आप भी किसी अवसाद या मानसिक तनाव की वजह से दुबले हो चुके है और आप अब अपना वजन बढ़ाना चाहते है तो वजन बढ़ाने की होम्योपैथिक दवा नेट्रम मुर आपके लिए लाभकारी साबित हो सकती है| नियमित रूप से इस मोटे होने की होम्योपैथिक दवा का सेवन करने से जल्द ही आपका मानसिक तनाव कम होने के साथ साथ भूख भी लगने लगती है| जैसे जैसे आपकी भूख बढ़ती है वैसे वैसे आपका वजन भी बढ़ने लगता है| मोटे होने की होम्योपैथिक दवा का सेवन होम्योपैथिक डॉक्टर से परामर्श लेने के बाद ही सेवन करें,अपनी मर्जी से कभी भी किसी भी होम्योपैथिक दवा का सेवन नहीं करना चाहिए|

2  –  लाइकोपोडियम – मोटे होने की होम्योपैथिक दवा

अगर आप पतले है और मोटा होना चाहते है तो हम आपको बता दें की मोटा होने की होम्योपैथिक दवा ( teji se vajan badhane ki homeopathic dawa ) का सेवन करने से पहले अपने पतले होने का कारण जरूर जाने| अगर आप खाना सही खाते है लेकिन आपके शरीर को खाया पिया लग नहीं रहा है या आपका खाना सही से पच नहीं रहा है या लिवर सही से काम नहीं कर रहा है ऐसी ही सभी परेशानियो को दूर करके आपका वजन बढ़ाने में सहायक होती है होम्योपैथिक दवा लाइकोपोडियम| लाइकोपोडियम क्लैवाटम पौधे के बीजो से इस दवा का निर्माण किया जाता है, इस होम्योपैथिक दवा सेवन नियमित रूप से करने से कुछ ही दिनों में आपका पाचन तंत्र मजबूत होने लगता है और अगर आपका वजन लिवर कमजोर होने की वजह से वजन नहीं बढ़ रहा है तो यह दवा आपके लिवर को मजबूती प्रदान करके आपके वजन को बढ़ाने में मदद करती है| मोटे होने की होम्योपैथिक दवा का सेवन बिना किसी होम्योपैथिक डॉक्टर की सलाह के बिना नहीं करना चाहिए|

3  –  आर्सेनिकम एल्बम – teji se vajan badhane ki homeopathic dawa

अगर आपका वजन कम है और कुछ भी खाने के बाद आपके पेट में दर्द या जलन महसूस हो रही है तो इसका अर्थ है की आपका पाचन तंत्र सही तरीके से काम नहीं कर रहा है या आप कह सकते है खाना ठीक से पच नहीं रहा है| किसी भी इंसान के शरीर में खाना सही से पच नहीं रहा है तो उसके खाने का असारशरीर पर नहीं लगता है, ऐसे आपको मोटे होने की होम्योपैथिक दवा आर्सेनिकम एल्बम का सेवन लाभकारी होता है| नियमित रूप से वजन बढ़ाने की होम्योपैथिक दवा का सेवन सुबह और शाम करने से कुछ ही दिनों में आपको लाभ दिखाई देने लगता है|

4  –  पल्सेटिला – दुबलेपन की होम्योपैथिक दवा

मोटे होने के लिए इंसान बहुत कुछ करता है, कुछ इंसान ज्यादा से ज्यादा खाने लगते है उन्हें लगता है अधिक खाना खाने से इंसान जल्दी मोटा हो जाता है, यह बात सही है की अगर इंसान की भूख बढ़ेगी तो वो खाना अधिक खाएगा और खाना ज्यादा खाने से वजन बढ़ता है लेकिन अगर आपके द्वारा खाए जाने वाला खाना आपके शरीर को नहीं लगेगा तो आपका वजन नहीं बड़ सकता है| मोटे होने की होम्योपैथिक दवा (teji se vajan badhane ki homeopathic dawa) पल्सेटिला काफी फायदेमंद मानी जाती है, नियमित इस दवा का सेवन करने से कुछ ही दिनों में आपका वजन बढ़ने लगेगा|

5  –   चेलिडोनियम माजुस – मोटा होने की होम्योपैथिक दवा

मोटे होने की होम्योपैथिक दवा चेलिडोनियम काफी लाभकारी मानी जाती है, इस दवा का सेवन नियमित रूप से करने से कुछ ही दिनों में आपका वजन बढ़ने लगता है| अगर आपको दिन भर सुस्ती, भूख कम लगना, लीवर की परेशानी हो, पित्त संबंधी परेशानी होना, मुंह में कड़वापन, पेट में जलन महसूस हो रही हो इत्यादि लक्षण दिखाई देने पर यह दवा फायदेमंद साबित होती है| मोटे होने की होम्योपैथिक दवा चेलिडोनियम माजुस का सेवन करने से पहले होम्योपैथिक डॉक्टर से परामर्श जरूर लें|

हम आशा करते है की आपको हमारा लेख मोटे होने की होम्योपैथिक दवा (mote hone ki homeopathic dawa ) में दी गई जानकारी आपको पसंद आई होगी, लेकिन अगर आप मोटे होने की दवा के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो गूगल या बिंग पर मोटे होने की होम्योपैथिक दवा ( mote hone ki homeopathic dawa ) लिखकर सर्च कर सकते है|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!