Tue. Aug 9th, 2022

Pathri Ki Homeopathic Dawa : किसी भी इंसान के पथरी होने पर उसे कई बार उसे बहुत तेज दर्द का सामना भी करना पड़ता है, आज के समय में पथरी का इलाज एलौपेथिक से लेकर होम्योपैथिक तक सभी में मुमकिन है| लेकिन आज भी अधिकतर इंसान पथरी की समस्या होने पर देसी नुस्खों का या होम्योपैथिक का इलाज करना पसंद करते है शरीर में पथरी बनने का सटीक कारण किसी को नहीं पता है| पथरी बनाने के पीछे अलग अलग इंसानो की बाते अलग ही होती है| कुछ इंसानो के अनुसार शरीर में गर्मी बढ़ने की वजह, गर्म जलवायु की वजह, पानी कम मात्रा में पीने की वजह इत्यादि हो सकती है| कुछ इंसानो का मानना है की जब शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा काफी बड़ जाने की वजह से कैल्शियम आक्सलेट, फॉस्फेट, अमोनियम फॉस्फेट, मैग्नीशियम कार्बोनेट इत्यादि तत्व किडनी की नली पर जमने लगते है जो धीरे-धीरे पथरी के रूप में बदल जाते है|

कुछ लोगो का मानना है की किसी भी इंसान का पाचन ख़राब होने की वजह से भी कई प्रकार की परेशानियां और पथरी की समस्या भी हो सकती हैं| पथरी की परेशानी शरीर के कई भाग में हो सकती हैं, आमतौर पर पथरी किडनी में ज्यादा पाई जाती है लेकिन कुछ इंसानो के मूत्राशय में, गाल ब्लैडर में, पित्ताशय में, पेशाब के नली इत्यादि में भी हो सकती है| अधिकतर लोगो का मानना है किडनी में पथरी बनने का मुख्य कारण गलत खानपीन और पानी कम पीना होता है, शरीर में पानी की कमी होने पर यूरिक एसिड अधिक मात्रा में बनने लगता है जिसकी वजह से किडनी में पथरी बन जाती हैं|

पथरी की होम्योपैथिक दवा, पथरी के इलाज के लिए होमियोपैथिक दवाई – Pathri Ki Homeopathic Dawa

चलिए अब हम आपको पथरी के इलाज के लिए होम्योपैथिक दवा के बारे में जानकारी दे रहे है, आप निम्न में से किसी भी दवाई के बारे में चिकित्सक से परामर्श लेकर पथरी की समस्या से छुटकारा पा सकते है –

सिस्ट या पथरी की होम्योपैथिक दवा है बर्बेरिस बल्गारिस (Berberis Vulgaris Pathri Ki Homeopathic Dawa) –

अगर आप पथरी की समस्या से पीड़ित है और आप पथरी से निजात पाने के लिए कोई अच्छी होम्योपैथिक सर्च कर रहे है तो होम्योपैथिक दवा lबर्बेरिस बल्गारिस आपके लिए काफी लाभकारी साबित हो सकती है| इस दवा का सेवन नियमित रूप से करने से किडनी और पित्ताशय दोनों जगह की पथरी को समाप्त करने में यह दवा उपयोगी साबित होती है, अगर आपको किडनी में दर्द की परेशानी हो रही है और दर्द पूरे शरीर में होने लगे, शरीर हिलाने से भी दर्द बढ़ने की परेशानी हो रही हो, लाल या चमकदार कण युक्त पेशाब होना, पेशाब में जलन की परेशानी होना, बार-बार पेशाब आना, पेशाब पूरा ना होना और बार बार पेशाब जाने की इच्छा करना इत्यादि लक्षण महसूस होने पर यह दवा काफी फायदेमंद होती है| लेकिन हम आपको सलाह देंगे की इस दवा का सेवन करने से पहले होम्योपैथिक चिकित्सक से परामर्श जरूर लें,क्योंकि किसी भी बिमारी को समाप्त करने के लिए दवा की उचित मात्रा का सेवन बहुत जरुरी होता है|

पथरी की सबसे अच्छी होम्योपैथिक दवा है लाइकोपोडियम (Lycopodium Homeopathic Medicines For Kidney Stone in Hindi)

किसी भी इंसान के पथरी होने पर कई तरह की परेशानियो का सामना करना पड़ता है, इसीलिए कुछ लक्षणों के आधार पर भी दवाई दी जाती है| अगर आपको पेशाब करने से पहले कमर में तेज दर्द की परेशानी होना, पेशाब करते समय दर्द की शिकायत होना, बार-बार पेशाब जाने का मन हो इत्यादि लक्षणों में आप लाइकोपोडियम दवा का सेवन कर सकते है| यह दवाई पथरी की परेशानी को जल्द समाप्त करने में सहायक होती है|

सिस्ट की होम्योपैथिक दवा है सारसापेरिला (Sarsaparilla Homeopathic Medicines For Kidney Stone in Hindi)-

अगर आप पथरी की परेशानी का सामना कर रहे है तो होम्योपैथिक दवा सारसापेरिला काफी लाभकारी साबित हो सकती है| नियमित रूप से इस दवाई का सेवन करने से पथरी की परेशानी कम होने के साथ पेशाब करने में दर्द, बूंद-बूंद पेशाब आने जैसी कई अन्य परेशानियां भी धीरे धीरे दूर होने लगती है|

किडनी में सिस्ट या पथरी की होम्योपैथिक दवा है कैल्केरिया कार्ब (Calcarea Carb Homeopathic Medicines For Kidney Stone in Hindi)

होम्योपैथिक दवा कैल्केरिया कार्ब किडनी की पथरी को समाप्त करने की सबसे अच्छी दवा मानी जाती है| नियमित रूप से होम्योपैथिक चिकित्सक की सलाह से इस दवाई का सेवन करने से कुछ ही दिनों में आपको पथरी की परेशानी से राहत प्राप्त मिल जाती है| आप इस दवाई को किडनी की पथरी की दवा या पथरी की सबसे अच्छी दवा भी कह सकते है|

सिस्ट या पथरी की होम्योपैथिक दवा है ओसिमम कैनम (Ocimum Canum Pathri Ki Homeopathic Dawa)

पथरी की होम्योपैथिक दवा ओसिमम कैनम का निर्माण तुलसी के पत्तो से किया जाता है| यह दवा यूरिक एसिड से बनने वाली पथरी को रोकने या समाप्त करने में सहायक होती है| नियमित रूप से ओसिमम कैनम का सेवन करने से कुछ ही समय में आपको लाभ मिलता है|

पथरी की होम्योपैथिक दवा का नाम बताओ

हम आशा करते है की आपको हमारा लेख सिस्ट या पथरी की होम्योपैथिक दवा (Pathri Ki Homeopathic Dawa) में दी गई जानकारी पसंद आई होगी| लेकिन हम आपको अंत में यही सलाह देंगे की कभी भी किसी भी होम्योपैथिक दवा का सेवन अपनी मर्जी से नहीं करना चाहिए| पथरी से छुटकारा पाने के दवा की उचित मात्रा और सेवन का तरीका पाता होना चाहिए, इसीलिए हमेशा होम्योपैथिक दवा का सेवन होम्योपैथिक चिकित्सक की सलाह के बाद ही करना चाहिए| अगर आपको किसी वजह से हमारा यह लेख पथरी की होम्योपैथिक दवा पसंद नहीं आया  है तो आप गूगल या बिंग पर सिस्ट या पथरी की होम्योपैथिक दवा (Homeopathic Medicines For Kidney Stone in Hindi ) लिखकर सर्च कर सकते  है|

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!