shani dev ki aarti

Complete shani dev ki aarti, शनि देव की आरती, शनिवार आरती

धार्मिक
86 / 100

shani dev ki aarti : भगवान शनिदेव सूर्य भगवान के पुत्र हैं,भगवान शनि आपके कर्मो के हिसाब से आपको फल देते है। लेकिन शनि भगवान को किसी पर क्रोध आ जाए तो वो इंसान राजा को रंक बन जाता है, शनिदेव की पूजा सच्चे मन से करने से भगवान बहुत जल्द प्रसन्न हो जाते है, शनिदेव भगवान की आरती सच्चे मन और श्रध्दापूर्वक पढ़ें –

shani dev ki aarti

शनिदेव आरती, शनि भगवान की आरती, shani aarti in hindi

जय जय श्री शनिदेव भक्तन हितकारी। सूर्य पुत्र प्रभु छाया महतारी॥
॥ जय जय श्री शनिदेव भक्तन….॥

श्याम अंग वक्र-दृ‍ष्टि चतुर्भुजा धारी। नीलाम्बर धार नाथ गज की असवारी॥
॥ जय जय श्री शनिदेव भक्तन….॥

क्रीट मुकुट शीश राजित दिपत है लिलारी। मुक्तन की माला गले शोभित बलिहारी॥
॥ जय जय श्री शनिदेव भक्तन….॥

मोदक मिष्ठान पान चढ़त हैं सुपारी। लोहा तिल तेल उड़द महिषी अति प्यारी॥
॥ जय जय श्री शनिदेव भक्तन….॥

देव दनुज ऋषि मुनि सुमिरत नर नारी। विश्वनाथ धरत ध्यान शरण हैं तुम्हारी॥
॥ जय जय श्री शनिदेव भक्तन….॥

shani aarti, shaniwar ki aarti, shani dev ki aarti in English

Agar aapne saturday ka vrat rakha hai or aap saturday ya shani dev ki aarti English me dhund rahe hai to is lekh me hum aapko shani dev ki aarti English me uplabdh kara rahe hai.  google or bing par dhundne se aapko jaldi se English me saturday ki aarti nahi milegi.  

Jai Jai Shri Shanidev Bhaktan Hitkari ।
Sury Putar Prabhu Chaya Mahtari ॥ Jai Jai Shri Shanidev …. ॥

Shyam Ang Vakr-Drashti Chaturbhuja Dhari ।
Nilambar Dhar Nath Gajj Ki Asvari ॥ Jai Jai Shri Shanidev…. ॥

Kreet Mukut Shish Rajit Dipat Hai Lilari ।
Muktan Ki Mala Gale Shobht Balihari ॥ Jai Jai Shri Shanidev… ॥

Modak Mishthan Paan Chadhat Hai Supari ।
Loha Til Tel Udad Mahishi Ati Pyari ॥ Jai Jai Shri Shanidev…॥

Dev Danuj Rishi Muni Sumirat Nar Nari ।
shvnath Dhrat Dhyan Sharan Hai Tumhari ॥ Jai Jai Shri ……॥

शनि देव महाराज की आरती, शनि देव नी आरती, जय जय शनिदेव दयाला, शनि देवता की आरती, सनी देव भगवान की आरती

jay jay shani dev, sunny bhagwan ki aarti, sunny maharaj ki aarti, shaniwar ki aarti, sunny ji ki aarti, shani devachi aarti

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *