शुगर को जड़ से खत्म करने के उपाय, इलाज, परहेज और लक्षण, best Home Remedies for Diabetes in hindi

शुगर को जड़ से खत्म करने के उपाय, इलाज, परहेज और लक्षण, best Home Remedies for Diabetes in hindi

शुगर को जड़ से खत्म करने के उपाय (शुगर का इलाज) : आज के समय में शायद ही कोई घर हो जिसमे कोई शुगर का मरीज ना हो, किसी को कम शुगर की परेशानी और किसी को ज्यादा या बड़ी हुई शुगर की परेशानी| उच्च शुगर के लक्षण बार-बार पेशाब आना, प्यास लगना और भूख ज्यादा लगना इत्यादि होते है| अगर किसी इंसान को शुगर की बिमारी है और वो इलाज कराने लापरवाही करता है तो कई बार शुगर की वजह से उसे घातक परिणाम भी भुगतने पड़ जाते है| जब किसी भी इंसान के शरीर में इन्सुलिन बनना बंद या कम हो जाता है तो उस इंसान के शरीर में ग्लूकोज की मात्रा बढ़ जाती है जिसे हम शुगर की परेशानी कहते है।

पहले के जमाने में डायबिटीज जैसी बीमारी 50 साल की उम्र के बाद हुआ करती थी, लेकिन अब समय बहुत ज्यादा बदल गया है आज आपको बच्चो से लेकर बड़ो तक सभी में शुगर बिमारी देखने को मिल सकती है| शायद इसका सबसे बड़ा कारण है असंतुलित और पोषण रहित खान पान। शुगर की बिमारी होने पर चिकित्सक की सलाह से आप शुगर की आयुर्वेदिक दवा का सेवन करके शुगर को जड़ से खत्म भी कर सकते है|

शुगर के प्रति लोगो को जागरूक करने के लिए हर साल 14 नवंबर को अंतरराष्ट्रीय मधुमेह दिवस भी मनाया जाता है| एलोपैथिक दवाई हाई शुगर को कम करने और कंट्रोल करने में कारगर साबित हो सकती है लेकिन अभी तक शुगर को जड़ से खत्म करने के उपाय नहीं मिला है|

दूसरी तरफ अगर आप शुगर के लिए घरेलू नुस्खे, उपाय और आयुर्वेदिक दवा का उपयोग सही तरीके से अपनाते है तो शुगर की परेशानी से निजात पाने में काफी मददगार होते है। आज हम अपने इस लेख में आपको शुगर को जड़ से खत्म करने के उपाय, रामबाण तरीका और बाबा रामदेव की दवा पतंजलि इत्यादि के बारे में अहम् जानकारी उपलब्ध कराएंगे, natural home remedy (gharelu nuskhe) and ayurvedic medicine for type 1, 2 diabetes treatment in hindi.

Table of Contents

डायबिटीज या मधुमेह क्या है? (What is Diabetes in Hindi?)

शायद ही कोई इंसान हो जिसने शुगर का नाम ना सुना हो, आयुर्वेद में शुगर को डायबिटीज को मधुमेह के नाम से जाना जाता है। आज के समय में अनुचित आहार-विहार,असंतुलित भोजन, व्यायाम ना करना, शारीरिक श्रम बहुत कम करना, अत्यधिक मानसिक तनाव इत्यादि करने की वजह से इंसान में वात, पित्त और कफ दोष उत्पन्न होने की वजह से शुगर की बिमारी होती है|

डायबिटीज होने के कारण (Causes of Diabetes in Hindi)

शुगर होने कई सारे कारण होते है लेकिन प्रमुख कारण है पैनक्रियास नामक ग्रंथि का सही से काम ना करना| शरीर में मौजूद पैनक्रियास नामक ग्रन्थि से विभिन्न प्रकार हार्मोन्स निकलते है, जिनमे मुख्य हार्मोन्स होते है इन्सुलिन और ग्लूकॉन। हमारे शरीर के लिए इंसुलिन बहुत ज्यादा उपयोगी होती है,इन्सुलिन ही शुगर की मात्रा को संतुलित रखती है इन्सुलिन ही शरीर में मौजूद रक्त में हमारी कोशिकाओं में शुगर पहुंचाती है|

  • अगर हमारे शरीर में इंसुलिन हार्मोन की मात्रा का निर्माण कम होता है तो शुगर की मात्रा संतुलित नहीं रहती है,जिसकी वजह से कई बार बेहोशी आना, दिल की धड़कन तेज होना इत्यादि परेशानी का सामना भी करना पड़ जाता है| इन्सुलिन कम होने की वजह से ब्लड में शुगर की मात्रा बड़ जाती है,इसीलिए शुगर की परेशानी होने का एक मुख्य कारण है इन्सुलिन का कम बनना|
  • कुछ इंसानो में शुगर की परेशानी अनुवांशिकता की वजह से भी होती है,अगर इंसान के परिवार के किसी सदस्य जैसे माँ-बाप, भाई-बहन में से किसी को शुगर की बिमारी है तो उस इंसान में भी शुगर होने की प्रबल सम्भावना होती है,इसलिए अनुवांशिकता भी शुगर का एक कारण है|
  • शुगर की बिमारी के शरीर का मोटापा भी कही ना कहीं जिम्मेदार होता है। जंकफूड अधिक खाना, असंतुलित और असमय भोजन मोटापा को बड़ा सकता है और मोटापे की वजह से इंसान में हाई ब्लड प्रेशर की परेशानी हो जाती है| शरीर में कॉलेस्ट्रोल का स्तर बढ़ने से भी डायबिटीज की परेशानी हो सकती है|
  • ऐसे इंसान जो बहुत ज्यादा मीठा खाते है, जंक फूड खाने, पानी कम पीते है, खाना खाने के बाद तुरंत सो जाते है, व्यायाम और एक्सरसाइज़ नहीं करते है ऐसे इंसानो में शुगर की बिमारी होने ज्यादा संभावना होती है|
  • मौजूदा समय में रहन सहन और खाने पीने की वजह से बच्चों में भी डायबिटीज या शुगर की परेशानी हो जाती है आजकल बच्चे शारीरिक रूप से बहुत कम काम करते है, उनका अधिकतर समय मोबाइल,टी.वी. या वीडियो गेम्स खेलने में बीतता है,जिसकी वजह से उनमे शुगर होने का खतरा बहुत ज्यादा रहता है। इसीलिए बच्चे को शारीरिक और स्वस्थ जीवनशैली को अपनाना बहुत जरुरी होता है।

शुगर (डायबिटीज) के प्रकार (Types of Diabetes in Hindi ), टाइप 1 और टाइप 2 मधुमेह के बीच का अंतर

ऊपर आपने जाना शुगर कई होती है या उसके होने के कई कारण है, अब हम आपको बताते है की शुगर कितने प्रकार की होती है –

  • टाइप-1 शुगर या डायबिटीज (Type 1 Diabetes) इस टाइप के मरीजों के शरीर इन्सुलिन का निर्माण प्रर्याप्त मात्रा में नहीं हो पाता है,जिसकी वजह से शरीर में शुगर की मात्रा बड़ जाती है| इस टाइप के मरीजों के शरीर में मौजूद पैनक्रियास की कोशिकाएँ इन्सुलिन का निर्माण नहीं कर पाती है| टाइप 1 शुगर अधिकतर युवाओं में ज्यादा देखने को मिलती है।
  • टाइप-2 शुगर या डायबिटीज (Type 2 Diabetes) – इस प्रकार की शुगर में शरीर में इन्सुलिन या तो कम मात्रा में बनता है या जो इन्सुलिन बनता है वह सही से काम नहीं करता है| टाइप-1 शुगर को उपाय और संतुलित भोजन से नियंत्रित करा जा सकता है| टाइप २ शुगर की परेशानी वयस्कों को होती है|

डायबिटीज या शुगर होने के लक्षण (Symptoms of Diabetes in Hindi)

डायबिटीज में शरीर का ग्लूकोज बढ़ने के साथ और भी लक्षण महसूस या दृष्टिगोचर होते हैं वह इस प्रकार हैं-

  • किसी भी महिला या पुरुष को अधिक भूख लगने लगें और प्यास भी काफी ज्यादा लगने लगे|
  • सामान्य से ज्यादा पेशाब आना
  • शरीर हमेशा थका थका महसूस हो रहा हो
  •  अचानक से बिना किसी कारण वजन बढ़ने या या कम होने लगे|
  • अगर त्वचा में खुजली की परेशानी हो रही हो या त्वचा से सम्बंधित समस्याएँ का होना
  •  नेत्र संबंधी परेशानी जैसे- साफ़ दिखाई ना देना
  •  कोई इंसान जब अधिक पेशाब करता है तो उसके शरीर में पानी की कमी होने लगती है, जिसकी वजह से इंसान को बार बार प्यास लगती है।
  •  अगर आपके कोई घाव या चोट लग गई है और उस चोट या घाव को सही होने में ज्यादा समय लग रहा है तो आपको शुगर की परेशानी हो सकती है|
  •  अगर किसी महिला को शुगर की परेशानी है तो उसे कैंडिड इंफेक्शन से ग्रसित होने की संभावना ज्यादा होती है|
  • अगर आपके हाथ और पैरों में झनझनाहट या चींटी चलती हुई महसूस हो रही हो|
  •  शुगर से पीड़ित इंसान के मसूड़े कमजोर हो जाते है|

शुगर को जड़ से खत्म करने के उपाय

शुगर को जड़ से खत्म करने के उपाय और इलाज, Sugar Ko Jad Se Khatam Karne Ka ilaj Upay in Hindi

शुगर को जड़ से खत्म करने के उपाय है करेला

करेले में मौजूद तत्व और पोषक शुगर की परेशानी को समाप्त करने में मददगार हो सकते है| अगर आप शुगर को जड़ से खत्म करना चाहते है तो करेला आपके लिए बेहतर विकल्प हो सकता है| करेला ब्लड में मौजूद शुगर की मात्रा को नियंत्रित करने सहायक होता है। करेला दोनों टाइप ( टाइप 1 और टाइप 2) शुगर के उपचार में लाभकारी होता है।

सबसे पहले एक या दो करेले लेकर उन्हें अच्छी तरह से धो लें, उसके बाद उन्हें काट कर उनमे से बीज निकाल लें, अब करेले के टुकड़ो को मिक्सी में थोड़े से पानी के साथ महीन पीस लें. अब इस मिश्रण को छान लें, नियमित रूप से सुबह खाली पेट करेले का जूस पीने से आपको बहुत ज्यादा लाभ प्राप्त होता है| आप चाहे तो करेले की सब्जी भी खा सकते है| यह नुस्खा शुगर को जड़ से खत्म करने के उपाय भी कहलाता है|

शुगर का घरेलू इलाज है आवंला

आवंले में मौजूद गुण और तत्व शुगर को नियंत्रित करने सहायक होते है| शुगर को जड़ से खत्म करने के लिए आवंले का सेवन लाभकारी होता है| सबसे पहले दो या तीन आवंले लेकर उन्हें अच्छी तरह से धो कर काट लें,आवंलो के बीज निकाल दें, अब मिक्सी की सहायता से आवंलो को महीन पीस ले| अब किसी साफ़ कपड़ें में पीसा हुआ आवंला डालकर उसका रस निकाल लें| नियमित रूप से सुबह खाली पेट 1 कप पानी में आवंले का रस (शुगर को जड़ से खत्म करने के उपाय) डालकर पी लें, कुछ ही दिनों में आपको लाभ प्राप्त होगा|

शुगर की रामबाण दवा है जामुन

जामुन के बारे में सभी जानते है और शायद ही कोई इंसान हो जिसने कभी जामुन ना खाई हो,लेकिन कई आप जानते है शुगर को जड़ से खत्म करने के उपाय या शुगर की रामबाण दवा के रूप में भी जामुन को जाना जाता है| जामुन की गुठलियां लेकर उन्हें धूप में अच्छी तरह से सूखा लें, सूखने के बाद उन्हें छील लें, गुठली से निकले बीजो को मिक्सी की मदद से बारीक पीस कर चूर्ण (शुगर को जड़ से खत्म करने के उपाय) बना लें, नियमित रूप से सुबह और शाम पानी के साथ थोड़ा चूर्ण का सेवन करें आपको बहुत जल्द लाभ मिलेगा|

शुगर का घरेलू उपचार है आम के पत्ते

आम के पत्तों को शुगर कम करने की आयुर्वेदिक दवा के रूप में भी जाना जाता है, आम के थोड़े से ताजे पत्ते लेकर उन्हें रात भर के लिए पानी में भिगो कर रख दें, सुबह उठ कर खाली पेट आम के पाटो को पानी में से निकाल दें और बचे हुए पानी को पी लें| आम के पत्तो का दूसरा नुस्खा है की सबसे पहले आम के पेड़ के पत्तो छाया में सूखा लें, जब पत्ते सुख जाएं तो उन्हें बारीक पीस कर चूर्ण बना लें, नियमित रूप से सुबह और शाम इस चूर्ण में से आधा चम्मच चूर्ण (शुगर को जड़ से खत्म करने के उपाय) पानी के साथ सेवन करने से लाभ प्राप्त होता है|

शुगर का देसी इलाज है अमलतास (Amaltas Helps to Control Diabetes in Hindi)

अमलतास की बेल आपको अपने आस पास आसानी से मिल जाएगी| थोड़ी अमलतास बेल लेकर उन्हें अच्छी तरह से धो लें, फिर उन्हें पीस कर और उसके बाद छानकर उनका रस निकाल लें, अब इस रस में से लगभग चौथाई कप रस सुबह खाली पेट पी लें, नियमित रूप से इस नुस्खे को अपनाने से शुगर के इलाज (शुगर को जड़ से खत्म करने के उपाय) में फायदा प्राप्त होता है।

शुगर का घरेलू उपचार है सौंफ (Fennel Seed Helps to Get relief from Complication of Diabetes in Hindi)

सौंफ को अधिकतर माउथ फ्रेशनर के रूप में जानते है, लेकिन कया आप जानते है की सौंफ में मौजूद गुण शुगर को भी कंट्रोल करने में सहयाक होते है| नियमित रूप से खाना खाने के बाद थोड़ी सी सौंफ (शुगर को जड़ से खत्म करने के उपाय) का सेवन जरूर करें, इससे आपका पेट सही रहेगा और शुगर भी नियंत्रित रहेगी, लेकिन घरलू उपचार के साथ साथ शुगर के मरीजों को अपने खाने पीने का खासतौर पर ख्याल रखना चाहिए।

मधुमेह की अचूक दवा है अलसी के बीज (Flax seed Helps to Control Diabetes in Hindi)

अलसी के बीज में मौजूद गुण शुगर को संतुलित रखने में मददगार होते है, थोड़े से अलसी के बीज लेकर उन्हें बारीक पीस कर चूर्ण बना लें, नियमित रूप से सुबह खाली पेट थोड़ा सा अलसी का चूर्ण गर्म पानी के साथ सेवन कर लें| जल्द ही आपको शुगर की मात्रा (शुगर को जड़ से खत्म करने के उपाय) में फर्क दिखाई देने लगेगा|

शुगर को जड़ से खत्म करने के उपाय है एलोवेरा 

एलोवेरा में मौजूद गुण और तत्व शुगर को कंट्रोल करने में सहायक हो सकते है| एक एलोवेरा का ताजा पत्ता लेकर उसे छील कर उसका गुद्दा निकाल लें, नियमित रूप से सुबह खाली पेट एलोवेरा का जूस (शुगर को जड़ से खत्म करने के उपाय) पीने से आपको जल्द लाभ प्राप्त होता है| शुगर को जड़ से खत्म करने के उपाय का पूर्ण लाभ लेने के लिए चिकित्सक से परामर्श और उचित मात्रा की जानकारी लेकर सेवन करने से जल्द लाभ प्राप्त होता है|

शुगर को जड़ से खत्म करने के उपाय है व्हीटग्रास , गेहूं से मधुमेह का इलाज

व्हीट ग्रास को संजीवनी बूटी भी कहा जा सकता है क्योंकि इसके फायदे अनेको है और व्हीटग्रास बहुत सारी बीमारियों को समाप्त करने में सहायक होती है| व्हीटग्रास में मौजूद गुण शुगर को कंट्रोल करने में भी सहायक होते है| अगर आप टाइप – 2 शुगर की परेशानी का घरेलू इलाज ढूंढ रहे है तो व्हीटग्रास (शुगर को जड़ से खत्म करने के उपाय) आपके लिए फायदेमंद है|

भिन्डी से शुगर का इलाज

शायद ही कोई घर हो जिसमे भिंडी की सब्जी ना खाई जाती हो, भिंडी काफी फायदेमंद होती है, लेकिन क्या आप जानते है शुगर को जड़ से खत्म करने के उपाय है भिंडी| आपको सुनकर थोड़ा अजीब लग सकता लेकिन भिंडी से शुगर को कंट्रोल किया जा सकता है| भिंडी से शुगर इलाज निम्न प्रकार किया जाता है

सबसे पहले तीन या चार भिंडी लेकर उन्हें अच्छी तरह से धो लें, फिर सभी भिंडियो को आगे और पीछे के हिस्से को काट लें, अब इन कटी हुई भिंडी को एक गिलास में पानी लेकर उनमे डुबो दें, रात भर पानी में भीगा रहने दें, सुबह उठ कर भिंडी को पानी में से निकाल लें और बचा हुआ पानी (शुगर को जड़ से खत्म करने के उपाय) सुबह खाली पेट पी लें| नियमित रूप से इस नुस्खे को करने से आपको जल्द लाभ प्राप्त होगा|

टाइप 2 डायबिटीज का घरेलू इलाज है भिंडी

अगर आप टाइप 2 डायबिटीज की परेशानी से पीड़ित है और आप इसका इलाज घरेलू नुस्खे से करना चाह रहे है तो भिंडी आपके लिए फायदेमंद हो सकती है| नियमित रूप से भिंडी का सेवन (शुगर को जड़ से खत्म करने के उपाय) करने से आपको जल्द लाभ प्राप्त होगा|

शुगर की दवा पतंजलि ,पतंजलि में शुगर का इलाज, बाबा रामदेव शुगर का इलाज

अगर आप शुगर की परेशानी से पीड़ित है और आप शुगर को जड़ से खत्म करने के उपाय चाहते है तो आपकी इस परेशानी का हल बाबा रामदेव की पतंजलि ने भी बनाया है| डायबिटीज के लिए पतंजलि की दवा (Patanjali Medicine For Diabetes) बहुत ही असरदायक होती है, पतंजलि ने शुगर की दवा का निर्माण कई सारी औषधियो के द्वारा किया है, नियमित रूप से पतंजलि की दवा का सेवन करने से कुछ ही दिनों में असर दिखने लगता है| पतंजलि की शुगर की दवा आपको किसी भी पतंजलि स्टोर या ऑनलाइन मिल जाती है, उचित मात्रा और सेवन का तरीका जानने के लिए दवाई पर दिए गए निर्देशों का पालन करें या चिकित्सक से परामर्श लें

  • अभी खरीदें – मधुनाशिनी वटी

बैद्यनाथ शुगर की दवा

बैद्यनाथ कंपनी भी काफी प्रसिद्ध है, कंपनी ने कई सारी बीमारियो को समाप्त करने के लिए दवाई का निर्माण किया है| अगर आप बैद्यनाथ में शुगर की दवा ढूंढ रहे है तो हम आपको बता दें की कंपनी के द्वारा बनाई गई शुगर की दवा शुगर का शर्तिया इलाज करने में मददगार होती है| अगर आप शुगर की परेशानी से पीड़ित है तो बैद्यनाथ की शुगर की दवा (शुगर को जड़ से खत्म करने के उपाय) आपके लिए लाभकारी है, यह दवाई आपको ऑनलाइन या मेडिकल स्टोर पर आसानी से प्राप्त हो जाएगी लेकिन बिना चिकित्सक के सलाह के किसी भी दवाई का सेवन ना करें|

  • चेक प्राइस नाउ- Baidyanath मधुमेहारी ग्रैन्यूल

शुगर को जड़ से खत्म करने का इलाज, देसी आयुर्वेदिक दवा – Sugar Ki Ayurvedic Dawa in Hindi

उम्मीद करते है की आपको हमारा लेख शुगर को जड़ से खत्म करने के उपाय पसंद आया होगा, लेकिन हम आपको सलाह देंगे की शुगर में किसी भी घरेलू नुस्खों को अपनाने से पहले किसी वैध या चिकित्सक से परामर्श जरूर लें|

आपके शरीर के हिसाब से उचित मात्रा और सेवन का सही तरीका वैध या चिकित्सक आपको बता सकते है,जिससे आपको काफी जल्द लाभ प्राप्त होता है| लेकिन अगर आप हमारे लेख से संतुष्ट नहीं है तो आप गूगल या बिंग पर शुगर को जड़ से खत्म करने के उपाय सर्च कर सकते है|

शुगर को जड़ से खत्म करने के उपाय इन हिंदी, शुगर को जड़ से खत्म करने के उपाय हिंदी में

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!